किसानों को अब खाद खरीदने पर मिलेगा 1 लाख रु का दुर्घटना बीमा, IFFCO कंपनी भरेगी प्रीमियम

इफको खाद बीमा योजना : फर्टिलाइजर बेचने वाली देश की सबसे बड़ी कंपनी इंडियन फार्मर्स फर्टिलाइजर को ऑपरेटिव लिमिटेड (IFFCO) ने  किसानों के लिए 1 लाख रुपये तक का फ्री दुर्घटना बीमा स्कीम की शुरुआत की है. कम्पनी ने इस योजना का नाम ‘खाद तो खाद बीमा भी साथ’ (Khad ke Sath Bima) रखा है . इस स्कीम के तहत अब किसानों को खाद की खरीद पर अधिकतम 1 लाख रूपये तक का बीमा कवरेज दिया जाएगा . आइये जाने की किसान को Khad ke Sath Bima Yojana का लाभ कब और कैसे मिलेगा इसके बारे में..

जाने ! क्या है इफको “खाद तो खाद बीमा भी साथ” योजना ?

IFFCO कम्पनी के गाजियाबाद और गौतमबुद्ध नगर जिले के मुख्य क्षेत्र प्रबंधक बृजवीर सिंह द्वारा दी जानकारी के मुताबिक़ अब किसानों को इफको खाद (फर्टिलाइजर) के प्रत्येक कट्टे पर 4000 रूपये का दुर्घटना बीमा (Accidental Insurance) दिया जाएगा .

IFFCO कम्पनी ने इस स्कीम का नाम “खाद तो खाद बीमा भी साथ” (Khad ke Sath Bima) रखा है, इस बीमा स्कीम के तहत एक किसान को अधिकतम 25 कट्टों पर 1,00,000 रूपये का इंश्योरेंस कवर प्रदान किया जाता है . इस इंश्योरेंस प्रीमियम का पूरा भुगतान इफको कंपनी द्वारा किया जाता है.

किसान इसे भी जाने : फसल बीमा योजना के तहत 15 दिसंबर से पहले रजिस्ट्रेशन कराने वाले किसानों को ही मिलेगा फायदा

बृजवीर सिंह ने योजना के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि उर्वरक खाद के कट्टों पर मिलने वाले दुर्घटना बीमा (Durghtna Bima) के तहत एक्सीडेंट में मृत्यु (accidental death) होने पर किसान के परिजनों को 1 लाख रुपये का भुगतान किया जाता है. इसके अलावा दुर्घटना में दो अंग क्षतिग्रस्त होने पर 2000 रुपये प्रति कट्टा के हिसाब से अधिकतम 50,000 रुपये तक की  बीमा राशि का भुगतान और एक अंग क्षतिग्रस्त होने की दशा में 1000 रुपये प्रति कट्टा के हिसाब से बीमा कवरेज कंपनी द्वारा सीधे प्रभावित परिवार के बैंक खाते में सीधे ट्रांसफर की जाती है.

इस तरह करना होगा बीमा क्लेम का दावा

iffco tokio insurance claim ‘खाद तो खाद बीमा भी साथ’ स्कीम के तहत दुर्घटना बीमित राशि क्लेम का दावा करने के लिए किसान के पास जितने कट्टे उर्वरक खाद खरीदी गई है उसकी रसीद (बिल) होनी चाहिए . क्योकि प्रभावित किसान के पास जितने कट्टों (अधिकतम 25) की रसीद होगी उसी के हिसाब से कंपनी द्वारा बीमा राशि का भुगतान किया जाएगा . यदि किसान की किसी दुर्घटना में मृत्यु हो जाती है तो उस स्थिति में बीमा क्लेम का दावा करने के लिए पोस्टमार्टम की रिपोर्ट और पंचनामा होना चाहिए. अंग क्षतिग्रस्त होने की दशा में एक्सीडेंट की पुलिस रिपोर्ट होनी चाहिए.

Web Title: iffco is providing accidental insurance on iffco fertilizer to farmers Let’s know how to claim it

Leave a Comment