हरियाणा में नरमा की सरकारी खरीद 1 अक्टूबर 2020 से होगी शुरू

हरियाणा किसान समाचार: राज्य में इस बार नरमा और कपास की MSP मूल्य पर सरकारी खरीद 1 अक्टूबर 2020 से शुरू होने जा रही है। इससे पहले पंजाब और हरियाणा में धान की सरकारी खरीद शुरू की जा चुकी है। आज 27 सितंबर 2020 को CMO Haryana के ऑफिसियल ट्विटर हेंडल पर ट्वीट इस बारे में जानकारी सावर्जनिक की गई । इस ट्विट में लिखा गया है की “हरियाणा में 1 अक्टूबर से शुरू होगी कपास की खरीद। किसानों की सुविधा के लिए स्थापित किये गए हैं 40 खरीद केंद्र।”

Haryana Me Narma Kapas Ki Sarkari Kharid

मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा भारतीय कपास निगम (CCI) के माध्यम से 1 अक्टूबर 2020 से न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर कपास की खरीद (cotton procurement) शुरू की जायेगी। आगे उन्होंने बताया की इस बार कोरोना के चलते प्रदेश में राज्य सरकार द्वारा कपास खरीद केंद्रों की संख्या को 20 से बढ़ाकर दोगुना यानि 40 किया गया है,और किसानों की शत प्रतिशत कपास की खरीद की जायेगी ।

हरियाणा नरमा-कपास की सरकारी खरीद  (न्यूनतम समर्थन मूल्य) सम्बन्धी मुख्य बातें

कॉटन कारपोरेशन ऑफ इंडिया द्वारा कपास खरीद के लिए पहले से तय किये गये मानकों में किसी प्रकार का कोई बदलाव नही किया गया है , यानि कपास की खरीद के दौरान 12 फीसदी तक नमी के मानक का पालन किया जाएगा।

पिछले वर्ष 2019-20 के सीजन में हरियाणा के किसानों से 30 लाख क्विंटल की खरीद की गई थी जिसे इस बार 2020-21 में बढ़ा कर खरीदने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

जानकारी के लिए आपको बता दे की आज कपास की खरीद की घोषणा का ऐलान करने से पूर्व मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल और उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला इस सम्बन्ध में केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी के साथ बैठक की जिसके बाद ये फैसला लिया गया।

कपास का न्यूनतम समर्थन मूल्य कितना है ?

साल 2020-21 के खरीफ सीजन के तहत कपास के लिए केंद्र सरकार द्वारा न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP Price) 5515 और 5825 रुपये प्रति क्विंटल निर्धारित किये गये है।

यानि मध्यम रेशे  (मीडियम स्टेपल) कपास का MSP 5515 रुपये/क्विंटल और लम्बे रेशा (स्टेपल) कपास का MSP 5825 रुपये/क्विंटल तय किया गया है। पिछले वर्ष इन फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य 5,150 और 5,450 रुपये प्रति क्विंटल था।

विपणन सीजन 2020-21 के लिए सभी खरीफ फसलों के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य इस प्रकार है :-

क्र.सं.
फसलें
प्रस्तावित लागत केएमएस 2020 – 21
खरीफ के लिए एमएसपी 2020 – 21
एमएसपी में वृद्धि
लगत पर प्रतिफल (% में)

1.

धान (सामान्य)

1245

1868

53

50

2.

धान (ग्रेड ए)

1888

53

3.

ज्वार (हाईब्रिड)

1746

2620

70

50

4.

ज्वार (मालदंडी)

2640

70

5.

बाजरा

1175

2150

150

83

6.

रागी

2194

3295

145

50

7.

मक्का

1213

1850

90

53

8.

तूर (अरहर)

3796

6000

200

58

9.

मूंग

4797

7196

146

50

10.

उड़द

3660

6000

300

64

11.

मूंगफली

3515

5275

185

50

12.

सूरजमुखी

3921

5885

235

50

13.

सोयाबीन (पिला)

2587

3880

170

50

14.

तिल

4570

6855

370

50

15.

नाइजरसीड

4462

6695

755

50

16.

कपास (मध्यम रेशा)

3676

5515

260

50

17.

कपास (लंबा रेशा)

5825

275

इसे भी पढ़े : सितंबर 2020 के नरमा और कपास के ताजा मंडी भाव यहाँ देखें

FAQs

हरियाणा में नरमा और कपास की सरकारी खरीद कब से शुरू होगी?

राज्य सरकार द्वारा भारतीय कपास निगम (CCI) के माध्यम से न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर नरमें और कपास की सरकारी खरीद (cotton procurement) 1 अक्टूबर 2020 से शुरू की जायेगी।

नरमा का न्यूनतम समर्थन मूल्य कितना है ?

साल 2020-21 के लिए सरकार ने नरमा-कपास का न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) मध्यम रेशा कपास का  5515 और लम्बे रेशा का 5825 रुपये प्रति क्विंटल तय किया हुआ है.

हरियाणा में किन की केंद्रों पर होगी नरमे की सरकारी खरीद?

प्रदेश में राज्य सरकार द्वारा इस बार कपास की खरीद 40 केंद्रों पर की जायेगी जिसकी लिस्ट जल्द ही यहाँ अपडेट कर दी जायेगी .

Leave a Comment