किसान इस ग्रुप से जुड़े Join Now

Petrol Pump Strike: राजस्थान में कल से 2 दिन पेट्रोल पंप की रहेगी हड़ताल, ये है वजह

Jagat Pal

Google News

Follow Us

Rajasthan Petrol Pump Strike News: राजस्थान प्रदेश की जनता के लिए पेट्रोल पंप को लेकर बड़ी खबर आ रही है। यदि आप भी राजस्थान के निवासी है या फिर किसी अन्य राज्य से अगले दो दिनों में किसी काम के लिए अपनी गाड़ी लेकर राजस्थान जा रहे है, तो आपको इस खबर की जानकारी होना आवश्यक है, अन्यथा आपको बड़ी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।

जी हाँ राजस्थान प्रदेश में अगले 2 दिनों के लिए सभी पेट्रोल पंप संचालकों ने हड़ताल (Strike) का ऐलान कर दिया है। ऐसे में दो दिनों तक राजस्थान प्रदेश के सभी पेट्रोल पंप पूरी तरह बंद रहेंगे। ऐसे में आम उभोक्ताओं, किसानों, टैक्सी संचालकों, ट्रांसपोर्ट्स इत्यादि को परेशानी का सामना करना पड़ेगा । ऐसे में यदि आपको अपनी गाड़ी के लिये पेट्रोल या डीजल की ज़रूरत है तो आज ही अपनी गाड़ी की टंकी फुल करवा लें।

राजस्थान में दो दिनों तक पेट्रोल पंप की हड़ताल

पेट्रोल पंप संचालकों के मुताबिक़ राजस्थान में वैट में कटौती और डीलर्स के कमीशन में बढ़ोतरी को लेकर राज्य में 2 दिन तक पेट्रोल पंप बंद रहेंगे। उन्होंने बताया कि राजस्थान प्रदेश में सभी पेट्रोल पंप 10 मार्च की सुबह 6 बजे से लेकर 12 मार्च की सुबह 6 बजे तक सभी पंप बंद रखकर अपना विरोध जताएंगे। साथ ही 11 मार्च को सचिवालय का घेराव भी किया जाएगा। बता दें कि राजस्थान में पेट्रोल डीज़ल के वैट में कटौती नहीं करने से दूसरे राज्यों की अपेक्षा यहां पेट्रोल और डीजल का दाम सबसे अधिक है।

पेट्रोल पंप की हड़ताल क्यों है?

राजस्थान पेट्रोलियम डीलर एसोसिएशन के अध्यक्ष राजेंद्र सिंह ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया कि पीएम नरेंद्र मोदी ने वैट कम करने की गारंटी दी थी, लेकिन इस पर अभी तक कोई भी निर्णय नहीं लिया । उन्होंने कहा कि पेट्रोल पंप संचालकों वैट अधिक और पिछले 7 साल से डीलर्स के कमीशन में बढ़ोतरी नहीं करने से लगातार घाटा हो रहा है। ऐसे में बहुत से पेट्रोल पंप तो बंद होने की कगार पर पहुँच चुके है। हम लंबे वक्त से सरकार से वैट कम करने की मांग कर रहे हैं, लेकिन अभी तक सरकार द्वारा कोई सुनवाई नहीं हो रही है। जिसके चलते पेट्रोलियम डीलर एसोसिएशन ने आगामी 2 दिनों के लिए हड़ताल पर जाने का निर्णय लिया है, ताकि सरकार का ध्यान इस तरफ जाये और उनकी समस्या का समाधान हो सके।

मैं जगत पाल पिलानिया ! ई मंडी रेट्स का संस्थापक हूँ । ई-मंडी रेट्स (e-Mandi Rates) देश का पहला डिजिटल प्लेटफॉर्म है, जो बीते 5 सालों से निरन्तर किसानों को मंडी भाव और खेती किसानी से जुड़ी जानकारियाँ प्रदान कर रहा है।