आम व सब्जियों का उत्पादन इस वर्ष ज्यादा रहने की सम्भावना : कृषि मंत्रालय

इस वर्ष देश में फलों का उत्पादन अंदाजन 10 करोड़ 32 लाख टन होने की उम्मीद

कृषि मंत्रालय के अनुसार इस वर्ष आम का उत्पादन 2 करोड़ टन से ऊपर होने की सम्भावना जताई है. यह पिछले वर्ष के मुकाबले 4 .24 प्रतिशत ज्यादा रहेगा। उत्तर प्रदेश जैसे उत्तर भारतीय राज्यों से आम की आवक जून माह के मध्य से शुरू होगी जबकि दक्षिण और पश्चिमी राज्यों से आम आना शुरू हो चुका है ।

कृषि मंत्रालय के अनुसार इस वर्ष में गर्मियों में पैदा होने वाले फल जैसे तरबूज़, ख़रबूज़ा और अन्य फलों का उत्पादन पिछले वर्ष की तुलना में थोड़ा कम रहने की सम्भावना है।

पिछले वर्ष के ख़रबूज़ा उत्पादन (13 .6 लाख टन ) के मुकाबले यह इस वर्ष 13 लाख टन ही रहने की सम्भावना है। इस वर्ष तरबूज़ का उत्पादन पिछले वर्ष के उत्पादन 31 .5 लाख टन से घटकर 31 .2 लाख टन होने की उम्मीद है।

जबकि केले का उत्पादन पिछले वर्ष के उत्पादन 3 करोड़ 25 लाख टन से बढ़कर 3 करोड़ 37 लाख टन होने की सम्भावना है।

कृषि मंत्रालय के अनुसार कुल फलों का उत्पादन पिछले वर्ष 10 करोड़ 2 लाख टन था, जबकि इस वर्ष यह उत्पादन बढ़कर 10 करोड़ 32 लाख टन होने की सम्भावना है।

सब्ज़ियों की बात करें तो पिछले वर्ष के मुकाबले इस वर्ष आलू और प्याज़ का उत्पादन कहीं अधिक होने की सम्भावना है। जबकि टमाटर का उत्पादन इस वर्ष अनुमानित 2 करोड़ 1 लाख टन रहेगा, गत वर्ष यह 2 करोड़ 11 लाख टन से ऊपर था।

प्याज़ का उत्पादन पिछले वर्ष 2 करोड़ 60 लाख टन था, जो अब के वर्ष बढ़कर यह 2 करोड़ 62 लाख टन से ज्यादा होने का अनुमान है। जबकि आलू के उप्तादन में इस वर्ष 1 करोड़ टन से भी ज्यादा बढ़ोतरी देखने को मिल सकती है। देश में कुल सब्जियों का उत्पादन पिछले वर्ष के मुकाबले इस वर्ष में 19 करोड़ 36 लाख टन होने का अनुमान है। पिछले वर्ष यह उत्पादन 18 करोड़ 89 लाख टन था।

Read Also: प्याज का बफर स्टॉक डबल कर महंगाई पर नकेल कसेगी सरकार, 7 राज्यों से होगी खरीद

Leave a Comment